अच्छे तरीके से समझाएं बुरी आदतों के बारे में


Photo: Shutterstock

Photo: Shutterstock

साथियों की ज़िद के आगे अल्कोहल के खतरे और सिगरेट के ज़हर संबंधी लेक्चर पहले ही कमज़ोर साबित हो चुके हैं। और उस पर, जब बच्चा अपने माता-पिता को वही करते देखता है जिसके लिए वे उसे मना करते हैं, तो? ऐसा करके आप खुद ही अपने आदर्श को हवा में उड़ा देते हैं और बहुत कम संभावना है कि आपको ऐसा करते देख, बच्चा आपकी सलाह को गंभीरता से ले।

इसलिए अपनी बुरी आदतों के बारे में झूठ न बोलना बेहतर हो सकता है। हो सकता है कि आपको लगे कि अगर आप सिगरेट पीने या शराब पीने की अपनी बुरी आदत स्वीकार करेंगे तो बच्चे पर इसका बुरा प्रभापड़ सकता है लेकिन सके प्रति आपकी ईमानदारी बच्चे को इसके बुरे प्रभाव समझने में ज़्यादा मदद कर सकती है।

13 थिंग्स मेंटली स्ट्रॉंग पीपल डोंट डू की लेखक और मनोचिकित्सक एमी मॉरिन ने याहू पेरेंटिंग को बताया कि “पूरे परिवार के साथ खुले दिमाग से बात करना सबसे महत्वपूर्ण है। अगर मां कुछ और कह रही है औश्र पिता उके उलट तो बच्चे के लिए यह भ्रम की स्थिति होगी।”

उन्होंने कहा कि “अगर अभिभावक कहते हैं कि स्मोकिंग खतरनाक और जानलेवा है, लेकिन बच्चा अपने अभिभावकों में से किसी एक को ऐसा करते देखता है तो वह यही समझेगा कि स्मोकिंग इतनी बुरी चीज़ नहीं है क्योंकि डैड तो करते हैं।”

महत्वपूर्ण यह है कि अपने बच्चे के सामने स्पष्ट करें कि आप क्यां इस बुरी अदत के शिकार हैं। जब आप बच्चे के सामने यह जताएंगे कि आप इसे छोड़ने की कोशिश कर रहे हैं तो इस बुरी आदत का सही स्वरूप आपका बच्चा भी ठीक ढंग से समझ सकेगा।

मॉरिन का सुझाव है कि ऐसा कुछ कहें कि “निकोटिन बुरी लत है, और मैं ससे पीछा छुड़ाना चाह रहा हूं। इसलिए मैं नहीं चाहता कि तुम भी इस मुश्किल का सामना करो। तो यही बेहतर है कि बड़े होने पर तुम छटपटाओ नहीं इसलिए यह आदत पालो ही मत।”

फिर यह भी ज़रूरी है कि आप वाकई इस लत को छोड़ने की कोशिश करते हुए दिखाई दें। अगर बच्चे ने यह महसूस किया कि आप कहते तो हैं लेकिन कोशिश करते नहीं हैं तो वह आपकी इस बात को भी गंभीरता से नहीं लेगा।

मॉरिन ने कहा कि “उसे विस्तार से समझााएं कि यह बुरी आदत है औश्र आप छोड़ना चाहते हैं लेकिन इसे छोड़ पाना आसान भी नहीं है। अभिभावक अक्सर यह गलती करते हैं कि वे बच्चे को इस खराब आदत न पालने के बारे में कहते हैं लेकिन वे सही औश्र पूरी तस्वीर नहीं दिखाते।”

यदि आप इस लेख में दी गई सूचना की सराहना करते हैं तो कृप्या फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक और शेयर करें, क्योंकि इससे औरों को भी सूचित करने में मदद मिलेगी ।

Leave a comment

Your email address will not be published.