बिल्ली पालना चाहते हैं? यह जानना ज़रूरी है


बिल्ली पालना चाहते हैं? यह जानना ज़रूरी है

Photo: Shutterstock


अगर आपने एक बिल्ली को पालने का मन बना लिया और विशेषकर एक लावारिस बिल्ली को, तो पूरी तैयारी करें। बिल्लियां चूंकि नये स्थान को लेकर संवेदनशील होती हैं इसलिए कई दिनों या हफ्तों तक आपके बिस्तर या किसी कोने में छुपी रह सकती हैं। सीएनएन में प्रकाशित एक लेख के अनुसार, अमेरिकन पॅट प्रोडक्ट्स एसोसिएशन एपीपीए का अनुमान है कि यूएस में 38 मिलियन परिवारों के पास बिल्लियां हैं और लोग उन्हें ठीक रखने के लिए काफी परेशान रहते हैं। दिये जा रहे निर्देशों का पालन कर आप इस तरह का सिरदर्द कम कर सकते हैं:
फीडिंग: छह से बारह महीने की उम्र में, जब मां के दूध की निर्भरता खत्म करने की प्रक्रिया चल रही हो, तब बिल्ली के बच्चों को रोज़ाना करीब चार बार आहार दिया जाना चाहिए। तीन से छह महीने के बिल्ली के बच्चों को रोज़ तीन बार। अगर आपका किटन खाने में नखरे करे तो उसके आहार को हल्के गर्म पानी में भिगोकर दें। कुछ समय के लिए आप अपने बच्चों के लिए तैयार किये गये चिकन फूड को भी बिल्लियों को दे सकते हैं जिसे समय के साथ किटन फूड के साथ मिलाकर दिया जा सकता है।

वयस्क बिल्लियों को रोज़ाना एक, दो या तीन बार आहार दिया जाना चाहिए। मात्रा आप तय करें कि दिन में एक बार ज़्यादा मात्रा देना है या दो या तीन बार कम मात्रा में आहार।
अपनी बिल्ली को अच्छी क्वालिटि का कैट फूड दें जो आपके पशु चिकित्सक की सलाह पर आधारित हो और बिल्ीी के लिए साफ व ताज़ा पानी हमेशा उपलब्ध रखें। हो सकता है कि आप बिल्ली को दूध पिताने के लिए लालायित हों लेकिन विश्वास के उलट दूध बिल्लियों के लिए अच्छा नहीं होता।
ग्रूमिंग और हैंडलिंग: बिल्लियां स्वभाव से बेहद सफाई पसंद होती हैं इसलिए उन्हें कभी-कभी ही नहलाना चाहिए। लेकिन, नियमित रूप से ब्रश करते रहें ताकि बिल्ली के कोट अच्छी स्थिति में रहें और बालों के गुच्छे न बनें। अपनी बिल्ली के अनुकूल ब्रश का इस्तेमाल करें।
अपनी बिल्ली को कभी भी गर्दन पकड़कर न उठाएं। आगे के पैर पकड़कर भी उसे न उठाएं। सही ढंग यह है कि उसके पैरों के पीछे हाथ लगाकर दूसरे हाथ को पेट के नीचे रखें और फिर उठाएं।
स्थान का प्रबंध: अपनी बिल्ली के लिए घर में एक स्थान निश्चित करें। उसका बिस्तर साफ, नर्म, गर्म और सूखा हो। अपनी बिल्ली को संक्रमण व अन्य पशुओं से बचाने के लिए उसे घर के अंदर ही रखें। अपनी बिल्ली के लिए लिटर बॉक्स, भोजन, पानी और बिस्तर एक निश्चित स्थान पर रखें, हो सके तो खिड़की के पास। लिटर को हर हफ्ते बदलें।
खेलना: पॅट खिलौनों के साथ बिल्लियां बहुत लंबे समय तक खेल सकती हैं। बिल्लियां प्राकृतिक रूप से ही अपने पंजों को नुकीला करने के लिए स्क्रैच करती हैं। अपनी बिल्ली को एक स्क्रैचिंग पोस्ट दें। सुनिश्चित करें कि यह अच्छी तरह से फिक्स हो।
पशु चिकित्सक के पास जाएं: बिल्ली को घर लाने के एक हफ्ते के बाद उसकी जांच के लिए पशु चिकित्सक के पास ले जाएं। चिकित्सक आपके पॅट की जांच कर उसकी सेहत के लिए आवश्यक सलाह देगा।

यदि आप इस लेख में दी गई सूचना की सराहना करते हैं तो कृप्या फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक और शेयर करें, क्योंकि इससे औरों को भी सूचित करने में मदद मिलेगी ।

Leave a comment

Your email address will not be published.