पपी को पट्टे के साथ वॉक की आदत डालें


पपी को पट्टे के साथ वॉक की आदत डालेंअपने पपी को लोगों के साथ रहने के लिए प्रशिक्षित करना कारगर है लेकिन इसके साथ उसे वॉक पर ले जाना न भूलें। उसे वॉक पर ले जाते समय शुरुआत में पट्टा बांधकर ले जाएं और अपने हिसाब से उसकी गतिविधियां करवाएं। आपका कुत्ता चाहेगा कि वह स्वतंत्र रूप से इधर-उधर दौड़े। कुत्तों के जानकारों और टीवी स्टार सीज़र मिलान के बताये हुए कुछ नुस्खे यहां बताये जा रहे हैं।

सही पट्टा चुनें
शुरुआत में अपने पपी के लिए एक फ्लैट कॉलर वाला हल्का पट्टा चुनें। इससे आपके पपी पर कम से कम ज़ोर पड़ेगा। बाद में आप ज़रूरत के हिसाब से विभिन्न कॉलरों का चयन कर सकते हैं।

धैर्य रखें
नस्ल के हिसाब से कुत्ते अलग-अलग बर्ताव करते हैं। कुछ कुत्ते पट्टे के रूप में लगाये गये प्रतिबंध को समझ पाते हैं जबकि कुछ नहीं। इस मामले में धीरज से काम लें और खुद को शांत रखें। भले ही आपका कुत्ता बेचैनी दिखाये लेकिन आप उसकी मदद करें और उसके हर किस्म के डर को दूर करने की कोशिश करें।

छोटे-छोटे कदम उठाएं
कॉलर से परिचित होने के लिए अपने पपी को समय दें। हो सकता है आपका पपी कॉलर लगाते वक्त चिंतित हो या वह डर भी सकता है क्योंकि कुछ नया उसके साथ हो रहा है इसलिए वह नखरे भी दिखा सकता है। अपने कुत्ते के साथ अगर आप कॉलर को लेकर कोई खेल कर सकें तो बेहतर है। इस कॉलर का उपयोग तब भी करें जब पपी घर में खेल रहा हो और तब भी जब आप उसे बाहर ले जाएं।

सुनिश्चित करें कि कॉलर ठीक से फिट है
ध्यान दें कि कॉलर फिट तो ठीक से हो लेकिन कसा हुआ न हो। आपके पपी को ऐसा महसूस न हो कि लगातार उसके गले के पास कुछ दबाव बन रहा है।

पपी का ध्यान बंटाएं
अपने पपी का ध्यान इस बात से हटाने की कोशिश करें कि उसने कॉलर पहना हुआ है – उसके साथ मनोरंजन ढंग से कुछ गतिविधियां करें। अगर आपका पपी कॉलर को खरोंचता है तो उसे किसी खेल में लगाएं। भोजन के समय या जब आप उसे बेसिक ट्रेनिंग दे रहे हैं, तब कॉलर ज़रूर लगाएं। इससे आपके पपी के दिमाग में कॉलर के ज़रूरी होने संबंधी एक समझ बनेगी।

पट्टे को खेल के साथ जोड़ें
खेल के समय पट्टा बांधने से पट्टे के साथ कुत्ते का सकारात्मक जुड़ाव बनता है। अगर पट्टे की रस्सी आपके द्वारा खींचे जाने पर आपका पपी गले में खिंचाव महसूस करता हो तो उसे पट्टे और कॉलर के साथ ही दौड़ने दें। हालांकि ऐसा करते हुए नज़र बनाये रखें। आप पट्टे का इस्तेामल पपी को सामान्य निर्देश जैसे बैठने आदि समझाते वक्त भी कर सकते हैं।

प्रोत्साहन दें
जब आपका पपी पट्टे के साथ सामंजस्य पूरी तरह बनाने की कोशिश में हो तब गुस्से में पट्टे को ज़ोर से न खींचें। अपनी प्रतिक्रिया में शांत रहें।

याद रखें, सही दिशा में उठाये गये छोटे कदम भी बाद में महत्वपूर्ण साबित होते हैं। आपका पपी जल्द ही पट्टे का आदी होकर आपके निर्देशों के मुताबिक ही बर्ताव करने लगेगा।

यदि आप इस लेख में दी गई सूचना की सराहना करते हैं तो कृप्या फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक और शेयर करें, क्योंकि इससे औरों को भी सूचित करने में मदद मिलेगी ।

Leave a comment

Your email address will not be published.