पॅट केयर: कुत्ते के लिए ज़रूरी पोषण


Pet care: Essential nutrients for a dog

Photo: Shutterstock

हर जीवित प्राणी की तरह ही कुत्तों को भी बेहतर जीवन के लिए पोषण की ज़रूरत होती है। क्वालिटि पॅट फूड के ज़रिये इसकी आपूर्ति संभव है। अपने कुत्ते की नस्ल और ज़रूरतों के बारे में जानें और अपने पशु चिकित्सक से खाद्य पदार्थों के अच्छे ब्रांड के बारे में जानकारी लें। अगर आप अपने कुत्ते को खुश और सेहतमंद देखना चाहते हैं तो उसकी डाइट में इन प्रमुख तत्वों को ज़रूर शामिल करें।

पानी: पर्याप्त हाइड्रेट रहना आपके कुत्ते की सेहत के लिए फायदेमंद है। हालांकि नम या गीले भोजन के ज़रिये उसके लिए आवश्यक पानी की पूर्ति संभवहै लेकिन हर समय उसके लिए साफ पानी उपलब्ध राएं। अगर आपका कुत्ता सूखा भोजन करता है तो उसे पानी की ज़रूरत ज़्यादा होगी। सूखे पॅट फूड में नमी की मात्रा लगभग 10 फीसदी होती है जबकि वॅट कैन्ड फूड में 78 फीसदी तक। कुत्ते को डिहाइड्रेशन होने पर गंभीरता से लें क्योंकि इसका अंजाम उसकी मौत भी हो सकता है।

प्रोटीन: शरीर के उतकों को बनाने और मरम्मत में प्रोटीन उपयोगी है। साथ ही, एंज़ाइम्स, हॉर्मोन और अन्य रसायनों के उत्पादन में भी यह ज़रूरी तत्व है। प्रोटीन से ही शरीर में हड्डियां, मांसपेशियां, कार्टिलेज, त्वचा और रक्त का निर्माण सुचारू रहता है। तो, यह आपके कुत्ते के लिए ज़रूरी डाइट है। अपने कुत्ते को एनिमल-बेस्ड प्रोटीन दें। अमीनो एसिड प्रोफाइल युक्त प्रोटीन के अच्छे स्रोतों, चिकन, लैंब, टर्की, बीफ, मछली और अंडे शामिल हैं। शाकाहारी स्रोतों में सब्ज़ियां, सोया और सेरल शामिल हैं, हालांकि ये अधूरे प्रोटीन माने जाते हैं।

फैट्स: प्रोटीन और कार्ब की तुलना में फैट से दोगुनी उर्जा मिलती है। वसा-विलेय विटामिनों के अवशोषण के लिए भी ये ज़रूरी हैं। संतुलित आहार का ज़रूरी हिस्सा है। एक वयस्क कुत्ते के लिए डाइट में 10 से 15 फीसदी वसा होना चाहिए। फैट के कारण कोशिकाओं की संरचना और कुछ खास हॉर्मोन के निर्माण में मदद मिलती है। ज़रूरी फैटी एसिड की कमी के कारण कुत्ते में विकास अवरुद्ध हो सकता है या त्वचा संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

कार्बोहाइड्रेट: सूखे डॉग फूड में इस तत्व की मात्रा 30 से 70 फीसदी तक होती है। कुत्ते के लिए ऊर्जा के साथ ही मस्तिष्क और स्नायु तंत्र के लिए कार्ब उपयोगी हैं। हालांकि ज़्यादा कार्ब के सेवन से ज़्यादा वज़न की समस्या हो सकती है। कार्ब के स्रोतों में मुख्यतः अनाज ही हैं जैसे बार्ले, ओट्स, भरू चावल, साबुत गेहूं और साबुत मक्का।

विटामिन: एंज़ाइम प्रतिक्रियाओं के लिए ज़रूरी होने के साथ ही कुत्तों में मेटाबॉलिक क्रियाओं को सामान्य रखने में विटामिन उपयोगी हैं। कई विटामिन शरीर में खुदबखुद उत्पन्न नहीं होते इसलिए डाइट में इन्हें शामिल करना चाहिए।

खनिज: विटामिन की तरह ही खनिज भी जानवरों के शरीर में निर्मित नहीं होते इसलिए डाइट के ज़रिये उन्हें देना चाहिए। हड्डियों और दांतों के साथ ही शरीर में द्रव संतुलन और मेटाबॉलिक क्रियाओं के लिए खनिज उपयोगी हैं।

यदि आप इस लेख में दी गई सूचना की सराहना करते हैं तो कृप्या फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक और शेयर करें, क्योंकि इससे औरों को भी सूचित करने में मदद मिलेगी

Leave a comment

Your email address will not be published.