पपी को घर लाने की सही उम्र


पपी को घर लाने की सही उम्रआपने तय कर लिया है कि आप एक पपी को घर लाना चाहते हैं। तो उसकी उम्र क्या होना चाहिए? विभिन्न विशेषज्ञों की राय जुदा-जुदा है लेकिन कई ये मानते हैं कि उसकी उम्र 8 हफ्ते होनी चाहिए। अनुभवी मालिकों के लिए यह 6 हफ्ते भी हो सकती है। फिर भी, शुरुआती हफ्तों में, यह महत्वपूर्ण है कि वह पपी अपनी मां और सहोदरों के साथ रहा हो ताकि पूरी तरह पोषित और सामाजिक व्यवहार करना सीख चुका हो।

पपी के लिए खोज लिंक के दौरान, अच्छा तरीका यह है कि ब्रीडर के पास जाएं और वहां चार से पांच हफ्ते के पपी देखें। विशेषज्ञ मानते हैं कि पपी की मां का व्यवहार भविष्य में पपी के व्यवहार का स्पष्ट संकेत होता है। इसलिए उसके व्यवहार का अंदाज़ा लगाएं। उसमें डर या घबराहट, गुस्सा या न्यूरोटिक लक्षण जैसे अपने पैर या पूंछ चबाने की आद, त्वचा संबंधी नुकसान और धड़कन आदि पर नज़र डालें।

एक कुत्ते के व्यवहार को विकसित करने में माहौल की भी भूमिका होती है। जिन पपीज़ को ठीक से सामाजिक परिवेश में रखा गया हो वे नये घर जैसी नयी परिस्थितियों से अधिक तारतम्य स्थापित कर पाते हैं। जो नये माहौल में ज़िंदादिल या तनावग्रस्त दिखते हैं, उनके लिए महत्वपूर्ण है कि लोगों के साथ जोड़ने के लिए उन्हें नियमित रूप से हैंडल किया जाये। एक बार आपका पपी लोगों के साथ सामंजस्य बनाना सीख जाएगा तो आगे उसे नयी परिस्थितियों के साथ अनुकूल होने में सरलता होगी।

12 हफ्ते से ज़्यादा बड़े पपी, प्रशिक्षण के लिहाज़ से कभी-कभी समस्यामूलक हो सकते हैं इसलिए घर लाने से पहले पर्याप्त जानकारियां लें। उदाहरण के लिए, जिन कुत्तों को स्नेहपूर्ण वातावरण में लोगों के साथ सतत संपर्क में रखा गया है वे उनकी तुलना में आपके लिए बेहतर हैं जिन्हें लोगों से दूर किसी बंद जगह रखा गया हो।

अपने कुत्ते को घर लाने से पहले, उसकी ज़रूरत की हर चीज़ तैयार रखें अगर ब्रीडर या आपके वेट ने उपलब्ध नहीं कराई हो। इसमें एक बिस्तर, खिलौने और ट्रीट शामिल हैं। अगर आप उसे किसी पिंजरे में रखना चाहते हैं तो उसकी व्यवस्था भी करें। दूसरी ओर, अगर आप थोड़े बड़े कुत्ते को घर ला रहे हैं जिसे बाहर घुमाया जा सकता है तो उसके लिए एक कॉलर, ज़ंजीर और डॉग टैग भी लें जिस पर आपका नाम, पता और टेलिफोन नंबर लिखा हो। पपी के भोजन का इंतज़ाम भी कर लें। अपने ब्रीडर या वेट से पूछ लें कि उस पपी को भोजन की क्या खुराक देना है या क्या दवाएं, टीके आदि देना है।

अगर आप पहली बार कुत्ता ले रहे हैं तो, सबसे ज़रूरी तैयारी यह है कि अपने आपको कुत्तों के बारे में सभी जानकारियां उपलब्ध करवा लें। इसमें उसके भोजन, प्रशिक्षण , घर लाने और उसे साफ रखने संबंधी जानकारियां शामिल हैं।

यदि आप इस लेख में दी गई सूचना की सराहना करते हैं तो कृप्या फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक और शेयर करें, क्योंकि इससे औरों को भी सूचित करने में मदद मिलेगी ।

Leave a comment

Your email address will not be published.