बिल्ली के बच्चे के लिए तैयारी की 11 टिप्स


बिल्ली के बच्चे के लिए तैयारी की 11 टिप्स

Photo: Shutterstock

क्या आप बिल्ली लाने की सोच रहे हैं? बिल्ली के बच्चे बहुत प्यारे होते हैं, है ना? अगर आप उन्हें घर लाएं तो याद रखें कि नया माहौल उनके लिए मुश्किल हो सकता है। इन नन्हे प्राणियों ने अपनी मां को छोड़ा है और नये घर में आये हैं तो आपको इनकी ज़िम्मेदारी से देखभाल करने की ज़रूरत है।

बिल्ली के बच्चे बहुत उत्साही होते हैं और मौज-मस्ती में किताब से लेकर कपड़े आदि फाड़ सकते हैं। तो कुछ बातें आप ध्यान रखें:

1. अपनी बिल्ली को घर में किसी छोटी सी जगह पर रखें और सिर्फ एक ही कमरे में उसे घ्ज्ञूमने दें। शुरुआती कुछ हफ्तों में ऐसा करने से एक तो वह भटकेगी या खोएगी नहीं और दूसरे जब आप उसकी टॉयलेट ट्रेनिंग शुरू करेंगी तो छोटी जगह के कारण दोनों को सुविधा होगी।

2. बिल्लियां स्वभाव से ही एक स्थान पर टॉयलेट करती हैं इसलिए लिटर बॉक्स को उसके मुख्य लिविंग एरिया में लेकिन कमरे के एक कोने में रखें। इस बॉक्स की सफाई का खयाल रखें क्योंकि बिल्लियां गंदे स्थान पर यह नित्यक्रिया नहीं करतीं।

3. फिर वही बात, बिल्लियां स्वभाव से ही उस स्थान पर भोजन नहीं करतीं जहां टॉयलेट आदि करती हैं। उसका खाना और पानी आप उसकी कमरे के दूसरे कोने में रखें जो लिटर बॉक्स से दूर हो। हमेशा ताज़ा पानी पीने को दें।

4. बिल्ली के बच्चे खुद को सुरख्ज्ञित महसूस करने के लिए छुपना पसंद करते हैं। कोई पुराना कार्टन या बॉक्स लें और उसमें उसके लिए कोई बल्ेंकेट वगैरह रख दें ताकि एक आरामदायक जगह बन जाये जहां वह छुप सके और सो सके।

5. शुरुआती कुछ हफ्तों में, आप अस्थायी रूप से घर के परदे निकाल दें क्योंकि हो सकता है कि बिल्ली का बच्चा उसे पकड़कर खींचे या उसके सहारे चढ़ने की कोशिश करे। अगर बिल्ली का बच्चा बुकशेल्फ जैसी किसी उंची जगह पर चढ़ जाये तो ध्यान रखें और उसे तुरंत उठा लें।

6. नुकसानदायक हर चीज़ जैसे दवाइयां, ज़हरीले पौधे या खतरनाक खाद्य पदार्थ आदि बिल्ली के बच्चे की पहुंच से दूर कर दें, साथ ही, टूट सकने वाला सामान भी। जिस स्थान पर बिल्ली का बच्चा घूमता है वहां बहुत छोटी चीज़ें जैसे बटन, कंचे या प्लास्टिक या धातु की कोई भी छोटी चीज़ न हो क्योंकि वह दुर्घटनावश उसे निगल सकता है।

7. अपने कपबोर्ड आदि को हमेशा ताला लगाएं क्रूोंकि बिल्ली के बच्चे आसानी से ऐसे स्थानों पर घुस जाते हैं। कांच का कोई भी सामान जैसे वाज़ या शोपीस आदि न रखें क्योंकि बिल्ली के बच्चे आसानी से इस तरह की चीज़ों पर चढ़कर उन्हें नुकसान पहुंचा सकते हैं।

8. कपबोर्ड के अलावा, बिल्लियां विंडो आपेनर्स की ओर भी आकर्षित होती हैं इसलिए इस तरह के ओपनिंग्स का ध्यान रखें ताकि वह उत्सुक प्राणी घर से बाहर न चला जाये।

9. बिल्ली का बच्चा आपके किसी सामान को खरोंचे, इससे बच्छा है कि आप उसे खरोंचने के लिए कुछ चीज़ें या खिलौने दे दें।

10. आपकी बिल्ली को सोने के स्थान की ज़रूरत होगी। कैट बास्केट अच्छा विकल्प है जो आसानी से साफ किया जा सकता है, मुलायम, हरारत भरा और वॉशेबल बिस्तर होता है। और अगर बिल्ली खुद ही कोई स्थान अपने सोने के लिए चुन ले, तो परेशान न हों।

11. आपको कैट कैरिया या किसी पिंजरे की ज़रूरत भी होगी जब आप उसे घर में अकेला छज्ञेड़कर कहीं जाएंगे या उसे चिकित्सक के पाय या कहीं और लेकर जाएंगे।

खयाल रखिए कि शुरुआती कुछ दिनों में बिल्ली के बच्चे को नये घर में बेचैनी या असुविधा हो सकती है इसलिए परेशान न हों और नये वातावरण के अनुसार ढलने के लिए उसे वक्त दें।

यदि आप इस लेख में दी गई सूचना की सराहना करते हैं तो कृप्या फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक और शेयर करें, क्योंकि इससे औरों को भी सूचित करने में मदद मिलेगी ।

Leave a comment

Your email address will not be published.